Video: ‘महाराष्ट्र को अकाल मुक्त प्रदेश बनाना है, चुनौतियां हैं चिंता नहीं’- फड़नवीस

113

नागपुर: देश के सर्वाधिक सफल मुख्यमंत्रियों में शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाले महाराष्ट्र के तेज तर्रार ऊर्जावान युवा मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने अपनी प्राथमिेकता को चिंहित करते हुए कहा है कि उनका लक्ष्य महाराष्ट्र को अकालमुक्त प्रदेश बनाना है. एक ऐसा महाराष्ट्र बनाना है, जिसके 20 हजार गांवों को कभी अकाल का सामना नहीं करना पडे.

‘महाराष्ट्र टुडे’ के प्रधान संपादक के साथ एक खास बातचीत में मुख्यमंत्री फडणवीस ने बताया कि अनोखी बल्कि क्रांतिकारी जलयुक्त शिवार योजना के सहारे दशक के सबसे बडे अकाल का सामना करने में महाराष्ट्र सफल रहा है.

प्रधांनमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘परिवर्तन’ के संकल्प पर चलने वाले मुख्यमंत्री फडणवीस ने दो टूक शब्दों में कहा कि ‘मैं कुर्सी पर केवल लाल बत्ती की गाडी में धूमने के लिए नहीं बैठा. एक दिन भी कुर्सी पर बैठा तो वह ‘परिवर्तन’ का दिन होना चाहिए’.

पिछले दो साल के कार्यकाल की उपलब्धियों की विस्तार में जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री फडणवीस ने यह भी बताया कि जलयुक्त शिवार योजना के अतिरिक्त नागपुर-मुंबई सुपर एक्सप्रेस के निमार्ण के बाद महाराष्ट्र प्रदेश 20 साल आगे चला जाएगा. विदर्भ सहित पूरे महाराष्ट्र को विकास की अतुलनीय प्राप्त होगी.

“महाराष्ट्र टुडे” के साथ साक्षात्कार में मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि, “उनके मार्ग में चुनौंतियों तो मौजूद हैं लेकिन उन्हें चिंता नहीं. सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ मुकाबला करते हुए उन पर विजय प्राप्त करूंगा”.

“महाराष्ट्र टुडे” मुख्यमंत्री फडणवीस के साक्षात्कार को तीन खंडो में जारी कर रहा है.

प्रस्तुत है पहला खंड…………

“मीडिया सरकार ने यह साक्षात्कार महाराष्ट्र टुडे.इऩ से साभार लिया है “

SHARE