सरकारी अस्पताल की लापरवाही: बेटे के शव के साथ मां-बाप को किया मुर्दाघर बंद

20

जयपुर। राजस्थान के प्रतापगढ़ जिला मुख्यालय के सरकारी अस्पताल में बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। अस्पताल के वार्डब्वॉय ने बच्चे के शव के साथ उसके माता-पिता को भी मुर्दाघर में बंद कर दिया। मामला मीडिया में आने के बाद आरोपी वाॉर्डब्यॉय को निलंबित कर दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक10 जून को 10 साल के छोटू को घायल अवस्था में अस्पताल भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। बच्चे की मौत के बाद उसे मुर्दाघर भेज दिया गया। बेटे की मौत से आहत उसके माता-पिता रकमी और रमेश भी उसके शव के साथ ही थे। वो अपने बेटे के बेटे के शव को छोड़ने के लिए तैयार नहीं थे। वॉर्डब्वॉय ने दो-तीन बार उन लोगों को बाहर आने को कहा, लेकिन जब वो नहीं माने तो वो उन्हें मुर्दाघर में ही बंद कर चला गया। दोनों बेटे शव के साथ 3-4 घंटों तक बंद रहे। जब अस्पताल प्रशासन को इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने फौरन ताला खोलकर दोनों को बाहर निकाला। मामले का संज्ञान लेते हुए आरोपी वॉर्डब्वॉय को निलंबित कर दिया गया है।