पत्रिका को मिला 1 करोड़ का मानहानि नोटिस

166

छत्तीसगढ़ के एंटी करप्शन ब्यूरो के एडीजी मुकेश गुप्ता ने एक न्यूज मैगजीन के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया है। साथ ही कानूनी नोटिस भेज कर कहा है कि या तो वह अपनी खबर वापस लें या 1 करोड़ के मानहानि के मुकदमे के लिए तैयार रहें।

दरअसल हिंदी मैगजीन ‘जगत विजन’ के पिछले अंक में छपी एक खबर में एडीजी गुप्ता पर नक्सलियों से कथित सांठगांठ और नान घोटाला में शामिल होने और दंतेवाड़ा जेल ब्रेक का कथित आरोप लगाया गया है।  मैगजीन में अपने 64 पेज के अंक में 46 पेज पर एडीजी के खिलाफ लेख प्रकाशित किए गए थे।

नोटिस में यह भी कहा गया है कि एडीजी मुकेश गुप्ता एक ईमानदार अफसर हैं, ये उन्हें बदनाम करने की साजिश है।

उन्होंने न्यायिक दंडाधिकारी शिवप्रसाद त्रिपाठी के यहां दायर परिवाद में 50 लाख का हर्जाना, मैगजीन में खबर का खंडन और माफीनामा प्रकाशित करने की अपील की है। मैगजीन के अधिकारियों को नोटिस जारी कर 7 दिनों के भीतर जवाब देने को कहा गया है।

उन्होंने कहा कि यदि मैगजीन की ओर से एक सप्ताह में नोटिस का जवाब नहीं दिया जाता है तो मैगजीन और प्रकाशक मंडल के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज कराएगा। इसके बाद उन्होंने 1 करोड़ रुपए के मानहानि दावा करने की चेतावनी भी दी है।

SHARE